10 सवालों से घिरी कांग्रेस तो संघ के खातों का खुलासा करने की दी चेतावनी

एनसीआई @ नई दिल्ली/सेन्ट्रल डेस्क
राजीव गांधी फाउंडेशन (आरजीएफ) को लेकर भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने शनिवार को सोनिया-राहुल परिवार और कांग्रेस पर जोरदार हमला किया। नड्डा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से 10 सवाल पूछे।
बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष नड्डा के प्रश्नों की फेहरिस्त में प्रमुख प्रश्न था कि, चीन की ओर से राजीव गांधी फाउंडेशन को पैसा क्यों दिया गया?
जेपी नड्डा ने यह भी पूछा कि मेहुल चोकसी से राजीव गांधी फाउंडेशन में पैसा क्यों लिया गया? मेहुल चोकसी को लोन देने में मदद क्यों की गई? उल्लेखनीय है कि मेहुल चोकसी पंजाब नेशनल बैंक घोटाले में आरोपी है। पीएनबी घोटाले के तहत नीरव मोदी और मेहुल चोकसी पर 13 हजार करोड़ रुपए के गबन का आरोप है। ये मामला 2018 में सामने आया था।


बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने पूछे ये 10 सवाल
– 130 करोड़ लोग जानना चाहते हैं कि कांग्रेस ने सत्ता में रहते हुए क्या-क्या काम किया और किस तरह से आपने देश के विश्वास के साथ विश्वासघात किया है।
– RCEP का हिस्सा बनने की क्या जरूरत थी? चीन के साथ भारत का व्यापार घाटा 1.1 बिलियन अमेरीकी डॉलर से बढ़कर 36.2 बिलियन अमेरीकी डॉलर कैसे हो गया?
-INC और कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ चाइना के बीच सटीक सम्बन्ध क्या है? दोनों के बीच टैक्टिक अंडरस्टैंडिंग क्या है? हस्ताक्षरित और अहस्ताक्षरित MOU क्या है? देश जानना चाहता है।
– मेरा कांग्रेस से सवाल है कि मेहुल चोकसी से राजीव गांधी फाउंडेशन में पैसा क्यों लिया गया? मेहुल चोकसी को लोन देने में मदद क्यों की गई?
– देश यह जानना चाहेगा कि 2005-2008 के बीच पीएम नेशनल रिलीफ फंड से आरजीएफ में पैसा क्यों भेजा गया?
– पीएम नेशनल रिलीफ फंड जो लोगों की सेवा और उनको राहत पहुंचाने के लिए है, उससे 2005-08 तक राजीव गांधी फाउंडेशन को पैसा क्यों गया? देश की जनता इसका जवाब जानना चाहती है।
– यूपीए शासन में कई केन्द्रीय मंत्रालयों, सेल, गेल, एसबीआई, अन्य पर राजीव गांधी फाउंडेशन को पैसा देने के लिए दबाव बनाया गया। देश की जनता इसका कारण जानना चाहती है।
– मैं जानना चाहता हूं कि ऐसी कीमती जमीन, जिस पर जवाहर भवन बना है, आरजीएफ को सदा के लिए पट्टे पर दी गई थी? यह क्यों दिया गया था और इतनी महंगी जगह पर इसे हमेशा के लिए क्यों पट्टे पर दिया गया।
– आरजीएफ ने न केवल पैसे लिए अपितु घोटाले भी किए। मैं जानना चाहूंगा कि राजीव गांधी चैरिटेबल ट्रस्ट को कैसे दान किया गया, जो परिवार द्वारा नियंत्रित है।
-राजीव गांधी फाउंडेशन के खातों की सीएजी से ऑडिटिंग क्यों नहीं करवा रहे हैं। फाउंडेशन पर आरटीआई लागू क्यों नहीं?
इन सवालों के जवाब देने टीवी चैनल्स पर आए कांग्रेस के सभी प्रवक्ता बीजेपी के प्रवक्ताओं पर खासे गुस्साते नजर आए। 10 में से किसी सवाल का जवाब दिए बिना कांग्रेस के प्रवक्ताओं का यह आरोप था कि बीजेपी चीन के मुद्दे से देश की जनता का ध्यान भटकाने के लिए इस प्रकार की चाल चल रही है। साथ ही एक चैनल पर कांग्रेस प्रवक्ता पवन खेड़ा तो इन सवालों के जवाब में संघ विचारक संगीत रागी पर यह कहते हुए बरस पड़े कि हम भी अब संघ के अकाउंट का खुलासा करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.