राहुल के वार से घिरी शिवराज सरकार का पलटवार, जंग जारी

एनसीआई@भोपाल/सेन्ट्रल डेस्क
मध्य प्रदेश में कांग्रेस सरकार के दौरान 26 लाख 95 हजार किसानों का कर्ज माफ हुआ। विधानसभा के एक दिन के सत्र में कृषि मंत्री कमल पटेल ने यह बात स्वीकारी तो कांग्रेस को शिवराज सरकार को घेरने का बड़ा मुद्दा मिल गया। राहुल गांधी भी इसमें कूद पड़े। उन्होंने इसे लेकर एक ट्वीट कर डाला। लगा अब शिवराज सरकार लाजवाब हो जाएगी, मगर सरकार के कृषि मंत्री ने उस पर करारा पलटवार कर दिया। चूंकि विधानसभा के उपचुनाव होने जा रहे हैं, इसलिए यह वार- पलटवार अभी और तेज होने की उम्मीद है।


रज्य के कृषि मंत्री के कांग्रेस सरकार में किसानों के कर्ज माफी की बात को स्वीकार करने पर ऐसी एक खबर के साथ राहुल गांधी ने ट्वीट किया, कांग्रेस ने जो कहा, सो किया। भाजपा सिर्फ़ झूठे वादे। राहुल गांधी का यह वार इसलिए असरकारक माना गया क्योंकि भाजपा यह आरोप लगा रही थी कि कमलनाथ सरकार और राहुल गांधी ने राज्य में किसानों की कर्ज माफी का जो वादा किया था, उसे पूरा नहीं किया। मगर राहुल के इस ट्वीट को री-ट्वीट करते हुए कृषि मंत्री कमल पटेल ने कहा कि, झूठों के सरदार, आपको शर्म आनी चाहिए। आपने कहा था 10 दिन में मध्यप्रदेश के सभी किसानों का 2 लाख तक का कर्ज माफ़ नहीं तो 11वें दिन मुख्यमंत्री बदल दूंगा। न तो आपने कहे अनुसार किसानों का कर्ज माफ किया और न ही सीएम बदला। इसके बाद कमल पटेल ने एक अखबार की खबर का लिंक शेयर करते हुए कहा कि देखिए आपके ही विधायक का बयान।
इसके पहले मंगलवार को कमलनाथ ने भाजपा पर हमलावर होते हुए शिवराज सिंह चौहान और ज्योतिरादित्य सिंधिया से प्रदेश की जनता से माफी मांगने को कहा था। उन्होंने कहा कि शिवराज सरकार के विधानसभा में करीब 27 लाख किसानों का कर्ज माफ हुआ, ये स्वीकार करने के बाद ये साबित हो गया कि भाजपा किसानों के मुद्दे पर सिर्फ झूठ बोल रही है। मैंने तो ग्वालियर में कहा भी था कि शिवराज सिंह चौहान आएं, मैं उन्हें जिन 26 लाख किसानों का कर्ज माफ किया है, उनके सारे आंकड़े, किसानों के नाम और पता सहित दे दूंगा।
अब सफाई: शिवराज सरकार के मंत्री ने कृषि मंत्री को गलत ठहराया
इधर, शिवराज सरकार में नगरीय प्रशासन मंत्री भूपेंद्र सिंह ने कहा, “विधानसभा में कृषि मंत्री कमल पटेल ने जो जानकारी दी वो ठीक नहीं थी। विधानसभा में अधिकारियों द्वारा दी गई जानकारी गलत है। मध्य प्रदेश में कर्ज माफी नहीं हुई है। मामले की जांच कराएंगे। गलत जानकारी क्यों दी गई। इसकी जांच के आदेश दे दिए गए हैं। कर्ज माफी में सिर्फ आंकड़ों का खेल खेला गया है।”
राहुल गांधी ने कहा था: कर्ज माफी का फायदा शिवराज सिंह चौहान के परिवार ने भी उठाया
राहुल गांधी ने 9 मई 2019 को लोकसभा चुनाव के प्रचार के दौरान सागर में हुई एक सभा में पर्चा लहराकर कहा था कि, कर्ज माफी का फायदा शिवराज सिंह चौहान के परिवार ने भी उठाया है। उन्होंने किसान कर्ज माफी के फार्म लहराकर कहा था कि, शिवराज सिंह चौहान यह झूठ बोल रहे हैं कि उनके परिजनों के कर्ज माफ नहीं हुए हैं। राहुल गांधी ने मंच से वह फार्म दिखाया, जिसे भरकर शिवराज सिंह चौहान के परिजनों ने कर्जमाफी का लाभ उठाया था। उन्होंने कहा था “मुझे कमलनाथ जी ने दिखाया कि शिवराज सिंह चौहान के परिवार के दो लोगों का सरकार ने कर्ज माफ किया है। शिवराज सिंह चौहान को अब कम से कम झूठ बोलना बंद कर देना चाहिए। इसके जवाब में शिवराज सिंह चौहान ने प्रेस कान्फ्रेंस कर दावा किया था कि, उनके परिवार से किसी का कोई कर्ज माफ नहीं हुआ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.