April 14, 2021

News Chakra India

Never Compromise

बून्दी: तीसरे चरण के वेक्सीनेशन की तैयारियां तेज, जिला कलक्टर ने दी हिदायतें

1 min read

एनसीआई@बून्दी
जिले के राजस्व अधिकारियों की बैठक गुरुवार को जिला कलक्ट्रेट सभागार में जिला कलक्टर आशीष गुप्ता की अध्यक्षता में आयोजित हुई। इसमें जिला कलक्टर ने निर्देश दिए कि तीसरे चरण में मार्च माह में 60 वर्ष से अधिक आयु वर्ग तथा गम्भीर बीमारियों से ग्रस्त 45 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के लोगों का वेक्सीनेशन किया जाएगा। उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रमण अभी खत्म नहीं हुआ है, इसलिए हम सभी को सक्रिय होकर अधिक क्षमता के साथ वेक्सीनेशन करना होगा। जिला कलक्टर ने इस कार्य को प्राथमिकता से करने के निर्देश दिए।
जिला कलक्टर गुप्ता ने निर्देश दिए कि अधिकारी उनके विभाग से सम्बन्धित बजट घोषणाओं को ध्यान में रखते हुए कार्य करें। राजस्व सम्बन्धी प्रकरणों का रूचि लेकर निस्तारण सुनिश्चित किया जाए। आम रास्तों के अतिक्रमण हटाने की कार्यवाही भी प्राथमिकता से की जाए। इसके अलावा मौका निरीक्षण पर्याप्त संख्या में हो। जिला कलक्टर ने निर्देश दिए कि सम्पर्क पोर्टल पर दर्ज पानी, बिजली एवं विभिन्न विभागों से सम्बन्धित ऐसे प्रकरण, जिनमें विभाग की ओर से राहत दी गई है, उनकी रेण्डम जांच की जाए।
जिला कलक्टर ने नामांतकरण की समीक्षा के दौरान निर्देश दिए कि इसमें कोई भी प्रकरण शेष नहीं रहे, इसकी सुनिश्चितता की जाए। संपरिवर्तन के प्रकरण पेंडिंग नहीं रखे जाएं। उन्होंने निर्देश दिए कि कि एलआर एक्ट वसूली के प्रकरणों का मार्च महीने में ही निस्तारण किया जाए। उन्होंने निर्देश दिए कि राजस्व प्राप्ति के सभी लक्ष्य तय समय पर अर्जित किया जाना सुनिश्चित करें। इस दौरान जिला कलक्टर ने नियम 141 के तहत पंजीबद्ध दस्तावेजों के निस्तारण तथा पंजीयन एवं मुद्रांक वसूली की समीक्षा कर आवश्यक निर्देश दिए।

‘प्रशासन गांव के संग’ अभियान की अभी से करें तैयारी

बैठक में जिला कलक्टर ने बताया कि मई माह में राज्य सरकार द्वारा प्रशासन गांवों के संग अभियान की शुरुआत की जाएगी। इसके लिए सभी आवश्यक तैयारियां अभी से पूरी कर ली जाएं, ताकि शिविर आयोजन के दौरान अधिक से अधिक लोगों को राहत दी जा सके। बैठक में अतिरिक्त जिला कलक्टर एयू खान, समस्त उपखण्ड अधिकारी एवं तहसीलदार मौजूद रहे।

तीसरे चरण में बड़ी संख्या में होगा टीकाकरण-जिला कलक्टर

जिला स्वास्थ्य समिति की बैठक भी गुरुवार को जिला कलक्ट्रेट सभागार में जिला कलक्टर आशीष गुप्ता की अध्यक्षता में आयोजित हुई।
बैठक में जिला कलक्टर ने निर्देश दिए कि मार्च में महीने में वेक्सीनेशन का तीसरा चरण शुरू होगा। इसमें 60 वर्ष से अधिक आयु वर्ग तथा 45 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के ऐसे लोग जिन्हें गम्भीर बीमारी है, उनका टीकाकरण किया जाएगा। इस चरण में बड़ी संख्या में टीकाकरण किया जाएगा। इसके लिए सभी सक्रिय होकर कार्य करें।
उन्होंने निर्देश दिए कि दो से तीन दिवस पूर्व टीकाकरण किए जाने वाले व्यक्तियों की सूची उपलब्ध कराई जाए। जल्दी सूची मिलने पर ज्यादा से ज्यादा लोगों को टाकाकरण से कवर किया जा सकेगा। वेक्सीनेशन के तीसरे चरण का कार्य समयबद्धता के साथ पूर्ण हो, इसकी सुनिश्चितता की जाए।
टीकाकरण के लिए हर पंचायत में एक सेंटर बनाया जाए। इसके लिए उचित भवन व स्थान का अभी से चयन किया किया जाए। जिला कलक्टर ने कहा कि पंचायतराज व कृषि विभाग के जिन कार्मिकों का टीकाकरण हो चुका है, उनका सहयोग भी इस कार्य में लिया जाए। टीकाकरण के दौरान अधिकतम दूरी के फार्मूले पर चलना होगा।
उन्होंने निर्देश दिए कि टीकाकरण स्थल पर पर्याप्त संसाधन उपलब्ध हों और टीम दक्ष हो। शिक्षा विभाग के कार्मिकों को भी प्रशिक्षण दिलाया जाए। इन कार्मिकों का उपयोग ऑब्जर्वेशन आदि कार्यों में लिया जाए। चिकित्सा विभाग की ओर से टीकाकरण सेंटर पर वेक्सीनेटर उपलब्ध रहे। उन्होंने निर्देश दिए कि टीकाकरण के लिए बनाए जाने वाले सेंटर के दौरान यह ध्यान रखा जाए कि केन्द्र की कनेक्टिविटी सड़क से हो।
जिला कलक्टर आशीष गुप्ता ने निर्देश दिए कि शहरी क्षेत्रों में टीकाकरण के लिए वार्डवार स्थान निर्धारित किए जाए। किस स्थान पर, किस वार्ड के लोगों का टीकाकरण होगा, यह भी तय कर लिया जाए। उन्होंने निर्देश दिए कि लक्ष्य के अनुरूप शत-प्रतिशत टीकाकरण सुनिश्चित हो। इसके अलावा इस कार्य में बीएलओ को भी शामिल किया जाए।
बैठक में जिला कलक्टर ने संस्थागत प्रसव की समीक्षा करते हुए निर्देश दिए कि जिन स्थानों पर लेबर रूम रिपेयर अथवा निर्माण का कार्य करवाया जा रहा है, उनको शीघ्र पूर्ण करवाया जाए। बिना कारण बताए पीएचसी से अनुपस्थित रहने वालों के खिलाफ कार्यवाही अमल में लाई जाएगी। जिला कलक्टर ने निर्देश दिए कि जेएसवाई योजना का भुगतान समय पर हो। इस दौरान उन्होंन टीकाकरण एएनसी, राजश्री योजना की समीक्षा कर आवश्यक निर्देश दिए।
बैठक में मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ. महेन्द्र त्रिपाठी ने बताया कि वेक्सीनेशन का तीसरा चरण सबसे महत्वपूर्ण है। वेक्सीन की दूसरी खुराक अत्यंत जरूरी है। उसके बिना पहली खुराक का महत्व नहीं है। उन्होंने कहा कि वेक्सीन बिलकुल सुरक्षित है। इस दौरान उन्होंने टीकाकरण के तीसरे चरण के लिए की गई तैयारियों के बारे में विस्तार से जानकारी दी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.