October 19, 2021

News Chakra India

Never Compromise

चरणजीत सिंह चन्नी सीएम बनने लायक नहीं, सोनिया गांधी बर्खास्त करें, Me too पर महिला आयोग ने खोला मोर्चा

1 min read

एनसीआई@नई दिल्ली

राष्ट्रीय महिला आयोग की अध्यक्ष रेखा शर्मा ने कहा कि आज चरणजीत सिंह चन्नी को उस पार्टी द्वारा पंजाब का मुख्यमंत्री बना दिया गया है, जिसकी अध्यक्ष एक महिला है, यह एक धोखा है। रेखा शर्मा ने कहा कि चरणजीत सिंह चन्नी महिलाओं की सुरक्षा के लिए खतरा हैं। उनके खिलाफ जांच बिठाई जानी चाहिए।

इस प्रकार चरणजीत सिंह चन्नी को पंजाब का मुख्यमंत्री बने कुछ घंटे भी नहीं हुए कि राष्ट्रीय महिला आयोग ने उन्हें महिलाओं की सुरक्षा के लिए खतरा बताते हुए उनके खिलाफ मोर्चा खोल लिया है। महिला आयोग ने इसी के साथ कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से मांग की है कि उन्हें तुरंत मुख्यमंत्री के पद से हटाया जाए। महिला आयोग की अध्यक्ष रेखा शर्मा ने कहा है कि वे मुख्यमंत्री का पद सम्भालने के लायक नहीं हैं, सोनिया गांधी उन्हें तुरंत बर्खास्त करें।

यह है मामला

दरअसल वर्ष 2018 में जब Me too आंदोलन ने तेजी पकड़ी थी, तब पंजाब की एक महिला आईएएस ने चन्नी पर गम्भीर आरोप लगाए थे। इन महिला आईएएस ने चन्नी पर उन्हें रात को कुछ अभद्र मैसेज भेजने का आरोप लगाया था। इस मामले पर काफी विवाद हुआ था। रिपोर्ट के अनुसार इस मामले में तत्कालीन सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने चन्नी को महिला आईएएस से माफी मांगने को कहा था। चन्नी के खिलाफ कार्रवाई नहीं होने पर तब इस मामले को राज्य की महिला आयोग ने भी उठाया था। कुछ दिन बाद ये मामला शांत हो गया था।

कल जैसे ही चरणजीत सिंह चन्नी का नाम पंजाब सीएम के लिए तय हुआ, बीजेपी इस मुद्दे को उठाने लगी है। कल सबसे पहले बीजेपी के आईटी हेड अमित मालवीय ने इस मुद्दे को उठाया था।


सीएम बनने लायक नहीं है चन्नी

सोमवार को चरणजीत सिंह चन्नी के शपथ लेने के बाद राष्ट्रीय महिला आयोग ने इस मुद्दे को उठाया। राष्ट्रीय महिला आयोग की प्रमुख रेखा शर्मा ने कहा कि साल 2018 में Me too मूवमेंट के दौरान चरणजीत सिंह चन्नी पर भी ऐसे ही आरोप लगे थे। तब राज्य की महिला आयोग ने इस मामले का स्वत: संज्ञान लिया था। तब भी पंजाब सरकार में केबिनेट मंत्री रहे चन्नी को हटाने की मांग को लेकर राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष धरने पर भी बैठी थीं।

उल्लेखनीय है कि सोमवार को कांग्रेस विधायक चरणजीत सिंह चन्नी ने पंजाब के मुख्यमंत्री के पद की शपथ ली है। वह पंजाब के पहले दलित मुख्यमंत्री हैं। उनके साथ सोमवार को सुखजिंदर सिंह रंधावा और ओपी सैनी ने भी शपथ ली, जिन्हें उप मुख्यमंत्री बनाया जाना है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.