September 26, 2021

News Chakra India

Never Compromise

गुजरात के सीएम विजय रुपाणी ने इस्तीफा दिया

1 min read

एनसीआई@अहमदाबाद

गुजरात के सीएम विजय रुपाणी ने आज अचानक मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देकर सबको चौंका दिया। उन्होंने गवर्नर आचार्य देवव्रत को अपना इस्तीफा सौंपा। उल्लेखनीय है कि गुजरात में एक साल बाद चुनाव होने जा रहे हैं। इसी के मद्देनजर भाजपा यहां किसी अन्य दमदार चेहरे को जिम्मेदारी सौंपने के मूड में है।

विजय रुपाणी ने इस्तीफा देने के बाद मीडिया को सम्बोधित करते हुए कहा, “भारतीय जनता पार्टी की यह परम्परा रही है कि समय के साथ-साथ कार्यकर्ताओं के दायित्व भी बदलते रहते हैं। ये हमारी पार्टी की विशेषता है कि जो दायित्व पार्टी द्वारा दिया जाता है, पूरे मनोयोग से पार्टी कार्यकर्ता उसका निर्वहन करते हैं। मुख्यमंत्री के रूप में दायित्व का निर्वहन करने के बाद अब मैंने मुख्यमंत्री पद से त्याग पत्र देकर पार्टी के संगठन में नई ऊर्जा के साथ काम करने की इच्छा भी जताई है। मुझे पार्टी द्वारा जो भी ज़िम्मेदारी मिलेगी, उसका मैं सम्पूर्ण दायित्व और नई ऊर्जा के साथ प्रधानमंत्री जी के नेतृत्व में, माननीय राष्ट्रीय अध्यक्ष जी के मार्गदर्शन में मैं अवश्य काम करता रहूंगा।”

गुजरात की जनता का किया शुक्रिया

विजय रुपाणी ने इस दौरान गुजरात की जनता का भी शुक्रिया अदा किया। उन्होंने कहा, “मैं गुजरात की जनता के प्रति भी आभार व्यक्त करता हूं कि विगत पांच वर्षो में हुए उपचुनाव या स्थानीय निकाय के चुनाव में पार्टी और सरकार को अभूतपूर्व समर्थन, सहयोग और विश्वास जताया। गुजरात की जनता का विश्वास भारतीय जनता पार्टी की ताकत भी बनी है और मुझे लगातार जनहित में काम करते रहने की ऊर्जा भी उससे मिली।”

चार सिद्धांतों पर जनता की सेवा की कोशिश की

विजय रुपाणी ने कहा कि हमारी सरकार ने चार आधारभूत सिद्धातों-पारदर्शिता, विकासशीलता, निर्णायकता और संवेदनशीलता के आधार पर जनता की सेवा करने का प्रयत्न किया है। उन्होंने कहा कि इस काम में मंत्रिमंडल के सभी साथियों, हमारे विधानसभा के सभी सदस्यों, पार्टी के तमाम पदाधिकारियों, कार्यकर्ताओं एवं जनता का सम्पूर्ण सहयोग मिला। मैं सभी का सहयोग के लिए आभार प्रकट करता हूं।

ऐसा रहा सियासी सफर

विजय रुपाणी गुजरात के 16 वें मुख्यमंत्री रहे। उन्होंने 7 अगस्त 2016 को इस पद की शपथ लेकर गुजरात की कमान अपने हाथ में ली थी। रुपाणी पश्चिम राजकोट से विधायक हैं। वो वर्ष 2006 से 2012 तक राज्यसभा के सांसद रह चुके हैं। नवम्बर 2014 में रुपाणी परिवहन मंत्री रहे थे। इसके अलावा वो गुजरात बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष भी रह चुके हैं। पहली बार वो 1987 में राजकोट नगर निगम के पार्षद चुने गए। इसके बाद 1996 में राजकोट के मेयर बने। रुपाणी विद्यार्थी काल से ही एबीवीपी और आरएसएस से जुड़ गए थे। वर्ष 2014 में राजकोट पश्चिम से एमएलए बने।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.