March 7, 2021

News Chakra India

Never Compromise

बिस्किट के विज्ञापन में दाऊद की ‘गर्लफ्रेंड’ का डांस, पाकिस्तान में मच गया बवाल

1 min read
महविश के इस विज्ञापन पर पाकिस्तान में मचा हुआ है बवाल।

(वीडियो देखने के लिए कृपया इसके बीच में हलका सा क्लिक करें)

एक्ट्रेस महविश हयात के विज्ञापन को लेकर सोशल मीडिया पर लोग नाराज, पाकिस्तान इलेक्ट्रॉनिक मीडिया रेग्युलेटरी अथॉरिटी (PERMA) को जारी करनी पड़ी अडवाइजरी।
एनसीआई@सेन्ट्रल डेस्क
पाकिस्तान इलेक्ट्रॉनिक मीडिया रेग्युलेटरी अथॉरिटी (PERMA) ने ब्रॉडकास्टर्स और एडवरटाइजर्स के लिए एडवाइजरी जारी की है। इसमें कहा गया है कि ऐसे थीम और कन्टेंट का इस्तेमाल न किया जाए जो प्रॉडक्ट से मेल नहीं खाता हो। दरअसल, देश में इन दिनों एक विज्ञापन को लेकर बवाल मचा हुआ है। इस विज्ञापन के साथ ही एक बार फिर विवादों में हैं पाकिस्तानी एक्ट्रेस महविश हयात। महविश पिछले दिनों तब चर्चा में आईं थीं, जब उनका नाम अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम से जोड़ा गया था।
लोगों के गले नहीं उतरा विज्ञापन
गाला बिस्किट के विज्ञापन में महविश डांस करती दिखाई दे रही हैं, जो सोशल मीडिया पर लोगों के गले नहीं उतरा है। लोगों ने इसे पाकिस्तानी समाज के खिलाफ बता डाला है। यहां तक कि कॉलमिस्ट और पत्रकार अंसार अब्बासी ने इसे मुजरा तक बता दिया और PERMA से इसके खिलाफ एक्शन लेने की मांग की थी। उनके ट्वीट पर संसदीय मंत्री अली मोहम्मद खान ने इसे इस्लाम-विरोधी बताया और कहा कि इससे युवाओं पर बुरा असर पड़ता है।
इसके बाद PERMA ने एडवाइजरी जारी की और कहा कि इस ट्रेंड से दर्शक खुश नहीं हैं। इससे न सिर्फ सभ्यता के मानकों का उल्लंघन होता है बल्कि देश के सामाजिक-सांस्कृतिक नियमों का भी। अथॉरिटी ने कहा है कि दर्शकों का मानना है कि ऐसे उत्पादों का विज्ञापन इस अजीब तरह से करने का मतलब नहीं है। इससे उपभोक्तावाद को भी बढ़ावा दिया जा रहा है। अथॉरिटी ने पाकिस्तान ब्रॉडकास्टर एसोसिएशन, पाकिस्तान एडवरटाइजिंग एसोसिएशन और पाकिस्तान एडवरटाइजर्स सोसायटी से अपने सदस्यों को सेंसटाइज करने के लिए कहा है।
देश में इतनी समस्याएं…बिस्किट पर बवाल क्यों?
अथॉरिटी ने खासतौर से गाला बिस्किट के विज्ञापन के कंटेंट को रिव्यू करने के लिए कहा है। सभी स्टेकहोल्डर्स से ऐसी थीम इस्तेमाल नहीं करने के लिए कहा गया है, जो प्रॉडक्ट के नेचर से मेल न खाती हों। विज्ञापन के विजुअल्स को इन-हाउस मॉनिटरिंग कमिटी से रिव्यू कराने के लिए भी कहा गया है। हालांकि, सोशल मीडिया पर कई यूजर्स ने इस विज्ञापन और महविश का बचाव भी किया है। सवाल किया गया है कि एक तरफ देश में हालात इतने खराब हैं, छात्रों को शिक्षा नहीं मिल रही, यौन शोषण बढ़ता जा रहा है, प्रोफेसरों की हत्या हो रही है और लोगों को बिस्किट के विज्ञापन के बारे में चिंता ज्यादा है।
कुछ वक्त पहले चर्चा में आईं थीं महविश
गौरतलब है इससे पहले महविश तब चर्चा में आई थीं जब उनका नाम अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम से जोड़ा गया था। मीडिया रिपोर्ट्स में दावा किया गया था कि दाऊद के लिए महविश बेहद खास हैं और दाऊद की वजह से ही महविश को पाकिस्तान का नागरिक सम्मान ‘तमगा-ए-इम्तियाज’ दिया गया था। रिपोर्ट्स में दावा किया गया था कि महविश को दाऊद ने एक आइटम साँग में देखा था और उसके बाद वह महविश पर इस कदर फिदा हो गया कि कई बड़े प्रॉजेक्ट्स उसकी मदद से महविश को मिले थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.