July 23, 2021

News Chakra India

Never Compromise

जयपुर: सिक्योरिटी गार्ड बन 10 वीं मंजिल पर पहुंची पुलिस, पकड़ा बड़ा गोरखधंधा

1 min read

एनसीआई@जयपुर
आईपीएल क्रिकेट मैच पर सट्‌टे का गोरखधंधा करने वाली एक और गैंग का पुलिस ने रविवार को खुलासा किया। इसमें हरमाड़ा थाना पुलिस ने कार्रवाई करते हुए चार सटोरियों को गिरफ्तार कर उनके कब्जे से 27 मोबाइल फोन, एक लेपटॉप, वॉइस रिकार्डर, पावर केबल आदि इलेक्ट्रॉनिक उपकरण बरामद किए। साथ ही करीब 1 करोड़ 60 लाख रुपयों के सट्‌टे का हिसाब भी जब्त किया है। यह हिसाब किताब दो रजिस्टरों में दर्ज था। बड़ी बात यह है कि इस मामले का खुलासा करने के लिए पुलिस को अपार्टमेंट की दसवीं मंजिल पर स्थित फ्लेट में सिक्योरिटी गार्ड बनकर पहुंचना पड़ा।
डीसीपी वेस्ट प्रदीप मोहन शर्मा ने यह जानकारी देते हुए बताया कि इस मामले में 4 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है। इनमें से हिमांशु शर्मा, दिनेश शर्मा व राहुल सैनी सीकर जिले के सबलपुरा और पुष्प नगर श्री माधोपुर गांवों के निवासी हैं। इनकी उम्र 28 से 32 साल के बीच है। वहीं चौथा गिरफ्तार आरोपी शहजाद हुसैन वार्ड नम्बर 12, रावण गेट चौमूं का निवासी है। ये लोग सितम्बर माह से आईपीएल क्रिकेट मैच पर सट्‌टा लगा रहे हैं। ये चारों 17 अक्टूबर से हरमाड़ा इलाके में बड़ पीपली सीकर रोड पर स्थित गुरुशिखर शेखावाटी बहुमंजिला बिल्डिंग की 10 वीं मंजिल पर एक फ्लेट किराए पर लेकर क्रिकेट सट्‌टा चला रहे थे।
दबिश के लिए अपनाया फिल्मी तरीका
एडिशनल डीसीपी बजरंग सिंह शेखावत ने बताया कि सबसे ऊपरी मंजिल पर फ्लेट होने की वजह से ये लोग आसानी से बिल्डिंग में आने-जाने वालों पर नजर रखते थे। हरमाड़ा थाना प्रभारी रविंद्र प्रताप सिंह को देर रात ही इस फ्लेट में सट्‌टा का गोरखधंधा चलने की जानकारी मिली थी। ऐसे में पुलिस ने आरोपियों की निगरानी से बचने के लिए बिल्डिंग के मुख्य गेट से प्रवेश करने की बजाए पिछले हिस्से से प्रवेश किया। इसके बाद मुखबिर की सूचना के आधार पर ये 10 मंजिल पर स्थित आरोपियों के फ्लेट तक पहुंची। यहां पुलिसकर्मी ने सिक्योरिटी गार्ड बनकर आवाज लगाई। इस पर सटोरियों ने फ्लेट का दरवाजा खोल दिया। पुलिस में तुरंत एक्शन लेते हुए चारों आरोपियों को दबोच लिया।
मास्टर मोबाइल फोन में है सट्टे की चाबी
चौमूं एसीपी राजेन्द्र सिंह निर्वाण के मुताबिक फ्लेट में छानबीन में सामने आया कि ये लोग एक मास्टर मोबाइल में डाउनलोड एप ‘ताज 777’ से जरिए क्रिकेट सट्‌टा लगा रहे थे, जिस पर भाव चालू था। इसके अलावा विशेष तरीके से एक अटेची में लगा रखे मोबाइल फोन के जरिए ऑनलाइन लाइन देखकर ग्राहकों से सट्टा लगवा रहे थे। ये लोग पहले चौमूं में ही सट्‌टे का यह गोरखधंधा करते थे। मगर पुलिस से बचने के चक्कर में ये अपना इलाका बदल यहां आ गए थे।
सीकर व जयपुर में पहले भी है केस दर्ज
इन आरोपियों के कब्जे से दो लक्जरी गाड़ियां भी जब्त की गई हैं। इनके मोबाइल फोन में लगे हुए फर्जी सिम कार्ड मिले हैं। इन आरोपियों में से दिनेश शर्मा के खिलाफ सीकर के सदर व कोतवाली थाने में तीन और जयपुर के हरमाड़ा में धोखाधड़ी का एक मुकदमा दर्ज है। इसके अलावा शहजाद हुसैन के खिलाफ चौमूं व हरमाड़ा में धोखाधड़ी व सट्‌टे का मुकदमा दर्ज है। इस कार्रवाई में हेडकांस्टेबल झाबरमल, कांस्टेबल रामसिंह, कांस्टेबल दयाराम, कांस्टेबल भजनाराम व डीसीपी वेस्ट कार्यालय के कांस्टेबल दिनेश कुमार शामिल रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.