February 28, 2021

News Chakra India

Never Compromise

मुम्बई की नजमा शेख जयपुर में शादी का झांसा देकर करती थी ठगी, हो गई गिरफ्तार

1 min read

एनसीआई@जयपुर
शादी का झांसा देकर मोटी रकम हड़प फरार होने वाली लुटेरी दुल्हन को आखिरकार जयपुर पुलिस ने दबोच लिया। इससे पहले गैंग के चार सदस्यों को पुलिस पकड़ चुकी थी, जो इस समय जेल में हैं। पुलिस को इसके बाद गैंग लीडर लुटेरी दुल्हन नजमा शेख उर्फ नेहा पाटिल की तलाश थी।
नजमा की तलाश के लिए जयपुर नार्थ जिले की गलता गेट थाना पुलिस ने महाराष्ट्र तक मशक्कत की। आखिरकार मुखबिर सूचना के आधार पर उसे मुम्बई की ट्रेन से जयपुर पहुंचने पर रेलवे स्टेशन पर पकड़ लिया गया। थाना प्रभारी आरपीएस धर्मवीर सिंह चौधरी के नेतृत्व में गठित पुलिस टीम ने यह कार्रवाई की।
डीसीपी नार्थ डॉ. राजीव पचार ने बताया कि गिरफ्तार नेहा पाटिल उर्फ नजमा शेख (40) मुम्बई में ठाणे जिले की रहने वाली है। इसकी गैंग में शामिल जयसिंहपुरा खोर ब्रह्मपुरी निवासी शोभारानी सोलंकी व नोरतमल जैन, बदनपुरा गलतागेट निवासी राहुल खंडेलवाल व पंचवटी कॉलोनी जयसिंहपुरा खोर निवासी रवि खंडेलवाल पहले गिरफ्तार हो चुके हैं। प्रारम्भिक पूछताछ में सामने आया है कि नेहा उर्फ नजमा और उसकी गैंग के साथियों ने जयपुर में ब्रह्मपुरी, सीकर के लक्ष्मणगढ़ और जोधपुर में एक युवक को शादी करने का झांसा देकर मोटी रकम हड़पी है
आधार कार्ड पर ऐसे करती फर्जीवाड़ा
एडिशनल डीसीपी सुमित गुप्ता के मुताबिक नजमा शेख उर्फ नेहा पाटिल किसी दूसरी लड़की के चेहरे से मिलते जुलते आधार कार्ड पर अपना फोटो चिपकाकर कलर प्रिंट निकलवा लेती है। उसे अपना पहचान दस्तावेज बताती है। इसके बाद गैंग में शामिल दलालों के मार्फत अपने को अविवाहित बताकर शादी की तलाश में घूम रहे परिवारों और युवकों से सम्पर्क करते हैं। उसे जल्दबाजी में शादी करने का दबाव बनाकर मंदिर में शादी कर लेते हैं।
योजना के मुताबिक नेहा उर्फ नजमा अपने ससुराल जाती है। एक दिन वहां ठहरकर आने जाने की रस्म के दौरान गहने व रुपए तथा कीमती सामान बटोरकर फरार हो जाती है। 25 फरवरी को उसके खिलाफ बदनपुरा निवासी सुनीता खंडेलवाल ने गलतागेट थाने में मुकदमा दर्ज करवाया था कि शोभारानी सोलंकी नाम की महिला ने उनसे सम्पर्क किया और एक लड़की से उसके बेटे की शादी करने का झांसा देकर एक लाख रुपए हड़प कर लिए। इसके बाद दुल्हन को फरार करवा दिया। तब पुलिस ने गैंग के चार सदस्यों को धरदबोचा, जबकि नजमा पाटिल महाराष्ट्र भाग निकली। ट्रेस होने से बचने के लिए वह मोबाइल फोन का उपयोग नहीं करती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.