November 27, 2021

News Chakra India

Never Compromise

बर्खास्त एसआई निकला ढाई करोड़ रुपए के सोने की लूट का मास्टर माइंड, कोरियर बॉय के साथ मिलकर रची थी साजिश

1 min read

एनसीआई@अलवर
जिले में नेशनल हाईवे पर 10 नवम्बर को रोडवेज बस से हुई ढाई करोड़ रुपए के सोने की लूट का पुलिस ने आज खुलासा कर दिया। इसके अनुसार इस लूट का मुख्य आरोपी सीआईएसएफ से बर्खास्त सब इंस्पेक्टर पवन जाट निकला है। इसकी लग्जरी लाइफ स्टाइल और गर्लफ्रेंड रखने का शौक महंगा पड़ गया। इसी के चलते उस पर भारी कर्जा हो गया था। इसे चुकाने के लिए ही उसने लूट की वारदातों को अंजाम देना शुरू कर दिया था। पुलिस ने इस मामले में 3 आरोपियों को गिरफ्तार कर पौने 2 करोड़ का सोना बरामद भी कर लिया है।
पुलिस ने बताया कि नीमराणा में लूट के दौरान पवन जाट खुद लग्जरी गाड़ी में सीआईएसएफ की वर्दी पहने पहुंचा। उसने कोरियर कम्पनी में काम करने वाले 3 लोगों के साथ मिलकर इस लूट की साजिश को रचा था।
ऐसे दिया लूट को अंजाम
पुलिस ने बताया कि 10 नवम्बर को श्री विनायक एयर पार्सल कोरियर में काम करने वाले प्रमोद कुमार सैनी से बदमाशों ने पहले ही मिली भगत कर लूट की साज़िश तैयार कर ली थी। सैनी दिल्ली से करीब ढाई करोड़ रुपए के गोल्ड के पार्सल लेकर रोडवेज बस में बैठा था। इसी बस में लूट में शामिल मुख्य आरोपी पवन जाट ने दो अन्य साथियों को भी बैठा दिया था। इसके बाद पवन खुद लग्जरी गाड़ी से रोडवेज बस के पीछे-पीछे अपने एक और साथी के साथ आया।
शाहजहांपुर में टोल प्लाजा निकलते ही बस के अंदर बैठे हुए इन बदमाशों ने बस को रुकवा लिया। फिर पवन ओर उसके साथी बदमाशों ने मिलकर प्रमोद कुमार सैनी को पार्सल सहित नीचे उतारा। पवन जाट सीआईएसएफ की वर्दी में दिखा तो लोगों ने ज्यादा सवाल-जवाब भी नहीं किए। असल में पवन और उसके साथियों ने कहा था कि यह व्यक्ति तस्करी का माल लेकर जा रहा है। इसके बाद ये बदमाश प्रमोद कुमार सैनी से ढाई करोड़ रुपए का सोना लेकर फरार हो गए थे।
पुलिस ने चार राज्यों में पड़ताल की
कोरियर कम्पनी और प्रमोद कुमार सैनी की ओर से मुकदमा दर्ज कराए जाने के बाद पुलिस ने हरियाणा, दिल्ली, पंजाब व हिमाचल प्रदेश में बदमाशों की तलाश की, जबकि वास्तव में पूछताछ के दौरान ही पुलिस को प्रमोद पर शक हो गया था। इस पर उससे सख्ती से पूछताछ की गई तो उसने वारदात में हाथ होना स्वीकार कर लिया। प्रमोद की निशानदेही पर पुलिस ने आरोपियों के घर से काफी सोना बरामद भी कर लिया।
मुख्य आरोपी का मिनरल वाटर प्लांट भी
मुख्य आरोपी पवन जाट का हिमाचल प्रदेश में मिनरल वाटर का प्लांट भी है। सीआईएसएफ में रहते हुए उसे बर्खास्त किया गया था। उसके बाद से ही उसे लग्जरी लाइफ जीना और गर्लफ्रेंड रखने का चस्का लग गया था। मोटे खर्चों के चलते उस पर काफी कर्ज होने के बाद वह इस तरह की वारदातों को अंजाम देने लगा। पुलिस अभी आरोपियों से और पूछताछ कर रही है। इसके आधार पर कुछ अन्य वारदातों का खुलासा भी हो सकता है।
अभी तीन गिरफ्तार और तीन फरार
पुलिस ने बताया कि इस वारदात में 6 जने शामिल थे। पुलिस ने इनमें से तीन को गिरफ्तार कर करीब पौने दो करोड़ का सोना भी बरामद कर लिया है। गिरफ्तार किए गए आरोपियों में मास्टर माइंड पवन जाट निवासी कैरवाली, नीमकाथाना, मनोज पुत्र कमलेश निवासी बगड़, झुंझुनू व प्रमोद कुमार पुत्र नागर मल निवासी बगड़, झुंझुनू शामिल हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.