August 1, 2021

News Chakra India

Never Compromise

इन 4 संकेतों से जानें आपका इम्यून सिस्टम कमजोर है या मजबूत

1 min read

‌एनसीआई@सेन्ट्रल डेस्क

कोरोना वायरस लगातार लोगों को अपनी चपेट में ले रहा है। इस वायरस से बचाव का एक ही तरीका है कि आप सभी सुरक्षा मानकों का पालन करें। ये सुरक्षा मानक हैं- दो गज की दूरी, मास्क और सेनेटाइजर का इस्तेमाल। इन तीन चीजों के अलावा एक और चीज है जो आपके शरीर को किसी भी बीमारी की चपेट में आने से बचाने में कारगर है, और वो है रोग प्रतिरोधक क्षमता। कोरोना काल में लोगों ने कई इम्यूनिटी बूस्टर चीजों का इस्तेमाल किया। लेकिन रोजमर्रा में कई ऐसी आदतें होती हैं जो कि रोग प्रतिरोधक क्षमता को मजबूती देने की बजाय उसे कमजोर कर रही हैं। ऐसे में सवाल उठता है कि कैसे पता लगाया जाए कि आपकी इम्यूनिटी कमजोर है या फिर मजबूत। जानें वो संकेत क्या हैं जिसके जरिए आप इन चीजों का आसानी से पता लगा सकते हैं।

बार-बार बीमार पड़ना

कई लोगों के ऊपर बदलते मौसम का असर तुरंत होता है। फिर चाहे वो अपना कितना भी ख्याल क्यों ना रख लें। सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन के अनुसार अगर किसी व्यक्ति को एक साल में 4 से अधिक बार खांसी जुकाम होता है तो ये आपकी कमजोर इम्यूनिटी का संकेत हो सकता है।

सोने के बाद भी थकान महसूस होना

कई लोगों को सोने के बाद भी थकान महसूस होती है। अगर आपके साथ ही ये ऐसा कई बार होता है तो ये भी इम्यूनिटी कमजोर होने का एक संकेत है। हेल्थ एक्सपर्ट के अनुसार कमजोर इम्यून सिस्टम को ज्यादा एनर्जी की जरूरत होती है। रात को कम नींद आना और दिन भर सिर भारी भारी लगना भी कमजोर इम्यूनिटी का संकेत है।

पेट की ये समस्याएं भी है कमजोर इम्यूनिटी का संकेत

बार-बार लूज मोशन होना या फिर कब्ज की समस्या भी कमजोर इम्यून सिस्टम का संकेत है। वहीं अगर आप खाना खाते हैं और उसके बाद पेट में जलन होने लगती है तो भी ये रोग प्रतिरोधक क्षमता के कमजोर होने का ही एक अन्य संकेत है।

मुंह में छाले निकलना

अक्सर एक दूसरे का जूठा खाने की वजह से लोगों को मुंह में छाले निकलने लगते हैं। लेकिन अगर आपके मुंह में छाले लगातार निकल रहे हैं तो ये भी इम्यून सिस्टम कमजोर होने का एक संकेत है।

साभार: India Tv




Leave a Reply

Your email address will not be published.

Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.