April 21, 2024

News Chakra India

Never Compromise

राजस्थान: कई जिलों में बारिश और ओलावृष्टि, बिजली गिरने से युवा पति-पत्नी, स्कूल से घर जा रही 15 वर्षीय छात्रा, बाइक सवार व एक अन्य युवक की मौत, 4 सरकारी कर्मचारी अचेत

1 min read

एनसीआई@जयपुर

राज्य के विभिन्न शहरों में शुक्रवार सुबह से बारिश और ओलावृष्टि का दौर शुरू हो गया। तेज हवा के साथ टोंक, सवाई माधोपुर, दौसा में सुबह से रुक-रुक कर बरसात हो रही है। इन जिलों में बिजली गिरने से हुए हादसों में 5 लोगों की मौत हो गई, वहीं 4 लोग बुरी तरह झुलस गए। मरने वालों में पति-पत्नी, 15 वर्षीय छात्रा, एक बाइक सवार व एक अन्य युवक शामिल है।

जयपुर में भी दोपहर बाद से घने बादल छाए हुए हैं। यहां चल रही ठंडी हवा से भी तापमान में गिरावट हुई है। इससे पहले सुबह जैसलमेर और श्रीगंगानगर में बूंदाबांदी भी हुई। इसके साथ ही मौसम केन्द्र नई दिल्ली ने इस सिस्टम को सीजन का सबसे स्ट्रॉन्ग सिस्टम माना है। इसे देखते हुए 10 राज्यों को ऑरेंज अलर्ट जारी किया है।

राज्य के 75 फीसदी हिस्से में बारिश

राजस्थान में इस सिस्टम के असर से 75 फीसदी क्षेत्र में बारिश और कहीं-कहीं तेज बरसात के साथ जबरदस्त ओलावृष्टि भी हो सकती है। आज बीकानेर, चूरू, झुंझुनूं, हनुमानगढ़, जैसलमेर और श्रीगंगानगर में ऑरेंज अलर्ट जारी है। वहीं, 2 मार्च के लिए करौली, झुंझुनूं, धौलपुर, दौसा, भरतपुर और अलवर में ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है।

बाइक सवार युवक व छात्रा पर बिजली गिरी

दौसा के लालसोट में दो जगह आकाशीय बिजली गिरने से एक छात्रा और एक युवक की मौत हो गई। युवक लालसोट के देवली मोड पर बाइक से जा रहा था। तब इस पर बिजली गिरने से हादसा हो गया। वहीं, दौलतपुरा गांव में स्कूल से घर जाते समय 15 वर्षीय छात्रा पर बिजली गिरने से उसकी भी मौत हो गई।

खेत में कटाई कर रहे थे पति-पत्नी, बिजली ने ले ली जान

सवाई माधोपुर के चौथ का बरवाड़ा तहसील क्षेत्र के बगीना गांव के पास खेत में फसल कटाई के लिए गए पति-पत्नी राजेन्द्र मीणा (30) पुत्र हरभजन और उसकी पत्नी जलेबी मीणा (28) की भी आकाशीय बिजली गिरने से मौत हो गई। वहीं, मित्रपुरा तहसील के गांव नानतोड़ी में ऐसे ही हादसे में युवक धन्नालाल पुत्र पांचू राम मीणा ने दम तोड़ दिया। यहां 8-10 बकरियां भी मर गईं।

टोंक में बिजली गिरने से 4 कर्मचारी अचेत

टोंक जिले की पीपलू पंचायत समिति कार्यालय पर आकाशीय बिजली गिरने से चार कर्मचारी अचेत हो गए। बिजली मीटर के तार टूट गए। कार्यालय की दीवार में दरार आ गई। आसपास के लोग चारों कर्मचारियों को स्थानीय सरकारी अस्पताल ले गए, जहां दो कर्मचारियों को तो तुरंत होश आ गया, बाकी दो को भर्ती कर उनका इलाज शुरू किया। इसके कुछ समय बाद इन्हें भी होश आ गया। करीब डेढ़ घंटे बाद सभी को छुट्‌टी दे दी गई। टोंक में बारिश के साथ चने के आकार के ओले भी गिरे हैं।

About Author

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.