June 13, 2021

News Chakra India

Never Compromise

बून्दी के दम तोड़ते मरीजों की भी आखिर बिरला की टीम को सताई चिंता, अभी तक कोटा पर ही दे रहे थे पूरा ध्यान

1 min read

एनसीआई@कोटा

बून्दी जिला अस्पताल में भर्ती कोविड रोगियों को राहत पहुंचाने वाली एक खबर आई है। अपने से पहले के अन्य सांसदों की तरह कोटा पर ही अधिकतर ध्यान केन्द्रित रखने वाले लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला की टीम को आखिरकार मजबूरी में ही सही बून्दी की चिंता सताई है। बिरला के कोटा कार्यालय की ओर से जारी हुई सूचना के अनुसार बून्दी जिला अस्पताल को लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला की प्रेरणा से 10 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर मिले हैं। बिरला की पहल पर जनसहयोग से स्थापित कोटा ऑक्सीजन कंसंट्रेटर बैंक के संस्थापक सदस्य दीपक राजवंशी व हरिओम दाधीच ने विधायक अशोक डोगरा के साथ मंगलवार को यह ऑक्सीजन कंसंट्रेटर जिला कलक्टर आशीष गुप्ता की मौजूदगी में बून्दी जिला अस्पताल को भेंट किए।
बैंक के सदस्य दीपक राजवंशी व हरिओम दाधीच ने बताया कि कोविड रोगियों की बढ़ती संख्या के कारण अस्पताल इन दिनों ऑक्सीजन की कमी से जूझ रहे हैं। वहीं ऑक्सीजन की कमी मरीजों की जान के लिए भी जोखिम बनी हुई है। ऐसे मरीजों को ऑक्सीजन की पर्याप्त उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला की प्रेरणा से कोटा ऑक्सीजन कंसंट्रेटर बैंक की स्थापना की गई है। बैंक पिछले 10 दिन से लगातार कोटा में घरों में भर्ती मरीजों को ऑक्सीजन कंसंट्रेटर की सुविधा दे रहा है।
उन्होंने बताया कि बून्दी से भी लगातार ऑक्सीजन की कमी और ऑक्सीजन कंसंट्रेटर की आवश्यकता की बात सामने आ रही थी। इसकी जानकारी मिलने पर लोकसभा अध्यक्ष बिरला ने बून्दी जिला अस्पताल के लिए भी ऑक्सीजन कंसंट्रेटर की व्यवस्था करने के निर्देश दिए थे। इस पर बैंक ने बून्दी के लिए भी 10 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर मशीनों का ऑर्डर दिया था। यह ऑक्सीजन कंसंट्रेटर सोमवार शाम कोटा पहुंचे। इसके बाद मंगलवार को इन्हें बून्दी जिला अस्पताल प्रशासन को सौंप दिया गया। उन्होंने कहा कि वर्तमान में ऑक्सीजन कंसंट्रेटर मशीनों की मांग और आपूर्ति में भारी अंतर है। जैसे ही और मशीनें उपलब्ध होंगी, जिला चिकित्सालय में और एवं जिले के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों के स्तर पर भी मशीनें देने का प्रयास किया जाएगा।
जिला कलक्टर आशीष गुप्ता ने कहा कि ऑक्सीजन कंसंट्रेटर मशीन मिलने से यहां भर्ती मरीजों को राहत मिलेगी। अस्पताल प्रशासन पर भी ऑक्सीजन उपलब्ध करवाने के लिए दबाव कुछ कम होगा। इस पहल के लिए उन्होंने लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला और कोटा ऑक्सीजन कंसंट्रेटर बैंक के सदस्यों का आभार व्यक्त किया। इस अवसर पर जिले के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. महेन्द्र त्रिपाठी, जिला चिकित्सालय के प्रभारी डॉ. प्रभाकर विजय आदि चिकित्साकर्मी मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.