June 19, 2024

News Chakra India

Never Compromise

प्रेमी से सम्बन्ध पर बेटे ने जताया ऐतराज, मां ने लोहे के गर्म पाइप से मारा

1 min read

एनसीआई@चेन्नई

भारत जैसे देश में भी अब लगातार ऐसी घटनाएं सामने आ रही हैं, जिनसे मां की प्रचलित छवि धूमिल हो रही हैै। ऐसा ही एक मामला तमिलनाडु के कुड्डालोर जिले के एक गांव में सामने आया है।‌‌यहां एक मां पर उसके प्रेमी के साथ मिलकर अपने 12 वर्षीय पुत्र को प्रताड़ित करने का आरोप लगा है। इस बच्चे ने मां के उसके प्रेमी के साथ सम्बन्ध पर ऐतराज जताया तो महिला और उसके प्रेमी ने उसे लोहे के गरम पाइप से पीटा। पड़ोसी ने इस मामले की जानकारी चाइल्ड हेल्प लाइन को दी, तब इसका खुलासा हुआ।

आरोप है कि 35 वर्षीय यह महिला और उसका 40 वर्षीय प्रेमी बच्चे के साथ अक्सर मारपीट किया करते थे। एक दिन इस बच्चे ने जब अपनी मां से उसके प्रेमी के साथ सम्बंध पर सवाल किया तो इन दोनों ने उसे लोहे के गरम पाइप से पीटा। सूचना मिलने पर चाइल्ड हेल्प लाइन और पुलिस की टीम मौके पर पहुंची और दोनों को गिरफ्तार कर लिया।

पति की हो चुकी है मौत

गिरफ्तार किए गए आरोपियों की पहचान एक कपड़ा दुकान की कर्मचारी शांति देवी और एम धुगैयाल अहमद के रूप में हुई है। दो साल पहले शांति के पति हरिकृष्णन की कैंसर से मौत हो गई थी। इसके बाद वो अहमद के सम्पर्क में आई। उसने शांति देवी को विश्वास दिलाया कि उसके घर में बुरी आत्माएं हैं। उसकी आर्थिक समस्याओं को खत्म करने के लिए कुछ अनुष्ठान करेगा। इन दोनों का यह परिचय बहुत जल्द सम्बन्ध में बदल गया।

बच्चे ने झेली भयानक पीड़ा

नाबालिग बेटे ने अपनी मां के रवैये में बदलाव देख ऐतराज जताते हुए पूछा कि अहमद अक्सर उसके पास क्यों आता है? इससे नाराज होकर महिला और अहमद ने इसे प्रताड़ित करना शुरू कर दिया। जब बच्चे ने उनके रिश्ते के बारे में पूछा, तो उन्होंने उसे घर से भागने तक के लिए मजबूर कर दिया। इस प्रकार इतनी कम उम्र के बच्चे ने जिस भयावहता को झेला है, उसकी कल्पना करना भी कठिन है।

पड़ोसियों को दी थी जान से मारने की धमकी

आरोपी महिला और उसके प्रेमी ने बच्चे को एक रात घर से बाहर निकाल दिया, तो उसने पूरी रात बाहर खड़े ऑटो-रिक्शा में बिताई। इस मामले में पड़ोसियों ने भी अपनी आवाज उठाने की हिम्मत नहीं की, क्योंकि अहमद ने उन्हें और उनके परिवार को जान से मारने की धमकी दी थी। मगर बाद में एक पड़ोसी ने हिम्मत कर यह जानकारी ग्राम प्रशासनिक अधिकारी (वीएओ) और चाइल्ड हेल्प लाइन को दे दी। इस पर कार्रवाई हुई। बच्चे को बचा कर बाल गृह भेज दिया गया। इसके महिला और उसके प्रेमी के खिलाफ पुलिस ने शिकायत दर्ज कर कोर्ट में पेश किया। यहां से इन्हें न्यायिक हिरासत में भेज दिया।

About Author

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed

Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.