August 1, 2021

News Chakra India

Never Compromise

पार्थिव पटेल रिटायर हुए: सबसे कम उम्र में डेब्यू करने वाले विकेटकीपर का 18 साल बाद संन्यास, पिछला मैच 2 साल पहले खेला था

1 min read

[ad_1]

  • Hindi News
  • Sports
  • Cricket
  • Parthiv Patel Retirement Announcement Update | Ex India Wicketkeeper Parthiv Patel Retires From All Forms Of Cricket

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

मुंबईएक मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

विकेटकीपर पार्थिव पटेल ने क्रिकेट के तीनों फॉर्मेट (टेस्ट, वनडे, टी-20) से रिटायरमेंट ले लिया है। क्रिकेट में उनका 18 साल का करियर रहा। उन्होंने 2002 में इंग्लैड के खिलाफ टेस्ट से डेब्यू किया था। इसके साथ ही वे सबसे कम उम्र में बतौर विकेटकीपर डेब्यू करने वाले प्लेयर बने थे।

पार्थिव ने आखिरी मैच जनवरी 2018 में साउथ अफ्रीका के खिलाफ जोहान्सबर्ग टेस्ट खेला था। उन्होंने आखिरी वनडे 12 फरवरी 2012 को श्रीलंका के खिलाफ ब्रिस्बेन में खेला था।

पार्थिव ने कहा- गांगुली का आभारी हूं
पार्थिव ने सोशल मीडिया पर पोस्ट कर अपने रिटायरमेंट का ऐलान किया। उन्होंने पूर्व भारतीय कप्तान और मौजूदा BCCI अध्यक्ष सौरव गांगुली का धन्यवाद दिया। उन्होंने लिखा- मैं खास तौर पर दादा का आभारी हूं। वे मेरे पहले कप्तान हैं। उन्होंने मुझ पर काफी विश्वास जताया। दूसरी पोस्ट में उन्होंने पत्नी अवनी और माता-पिता का भी धन्यवाद दिया। उन्होंने लिखा- आप मेरी इस यात्रा में मेरे साथ रहे। इसके लिए आपका बहुत-बहुत धन्यवाद।

तीनों फॉर्मेट में शतक नहीं लगा सके पार्थिव
पार्थिव ने वनडे डेब्यू जनवरी 2003 में न्यूजीलैंड के खिलाफ खेलते हुए किया था। उन्होंने अपने टेस्ट करियर में 25 मैच खेले, जिनमें उन्होंने 934 रन बनाए। वहीं वनडे करियर में उन्होंने 38 मैच खेलकर 736 रन बनाए । पटेल ने सिर्फ 2 टी20 मैच खेले हैं। वे तीनों फॉर्मेट में शतक नहीं लगा सके।

फर्स्ट क्लास में 10 हजार से ज्यादा रन
पार्थिव ने 194 फर्स्ट क्लास मैच खेले हैं। जिसमें 43.39 की औसत से 11,240 रन बनाए हैं। उन्होंने फर्स्ट क्लास मैच में 27 सेंचुरी और 62 फिफ्टी लगाए हैं। वहीं, लिस्ट A में उन्होंने 193 मैच खेले हैं। इसमें 29.72 की औसत से 5172 रन बनाए हैं। इस दौरान उन्होंने 3 शतक और 35 अर्धशतक लगाए हैं।

गुजरात को दिलाई थी पहली बार रणजी ट्रॉफी

  • जनवरी 2017 में गुजरात की टीम ने पार्थिव पटेल की कप्तानी में ही पहली बार रणजी ट्रॉफी टूर्नामेंट जीता था।
  • फाइनल में गुजरात ने मुंबई को 5 विकेट से हराया था। फाइनल में पार्थिव ने कप्तानी पारी खेलते हुए 143 रन बनाए थे।
  • पार्थिव को उनकी इनिंग के लिए प्लेयर ऑफ द मैच भी चुना गया था।
  • इस मैच में गुजरात की टीम ने 312 रन चेज करते हुए रणजी ट्रॉफी में सबसे बड़ा टारगेट हासिल करने का नया रिकॉर्ड भी बना दिया था।

[ad_2]

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.