February 24, 2021

News Chakra India

Never Compromise

5 माह की गर्भवती ने TCS विश्व 10 किलोमीटर रेस को 62 मिनट में किया पूरा

1 min read

[ad_1]

5 months pregnant completes TCS World 10 kilometer race in 62 minutes- India TV Hindi
Image Source : ANKITAGAUR/INSTAGRAM
5 months pregnant completes TCS World 10 kilometer race in 62 minutes

बेंगलुरू। टीसीएस विश्व 10 किलोमीटर बेंगलुरू-2020 मैराथन में पांच महीने की गर्भवती महिला ने रेस को 62 मिनट में पूरा किया। इस महिला का नाम अंकिता गौर है, जिन्होंने रविवार को आयोजित रेस में हिस्सा लिया।

एक बयान में अंकिता ने कहा, “मैं यह बीते नौ साल से करती आ रही हूं, लगभग हर दिन। आप उठते हो और दौड़ने जाते हो। कई बार होता है कि आप चोटिल होते हो या आपकी तबीयत ठीक नहीं रहती तो आपको आराम करना पड़ता है, नहीं तो मैं बीते नौ साल से लगातार दौड़ रही हूं। इसलिए यह मेरे लिए सांस लेने की तरह है।”

ये भी पढ़ें – ओलंपिक-2028 में भारत को 1-2 पदक से संतुष्ट नहीं होना चाहिए : किरण रिजिजू

उन्होंने कहा, “दौड़ना काफी सुरक्षित है। गर्भवती होने के समय दौड़ना एक अच्छी एक्सरसाइज है। साथ ही अगर आप, अमेरिकी स्वास्थ परिषद को देखेंगे तो वह आपको सुझाते हैं कि आप दौड़ें, यह एक दम सही है। यह बच्चे के विकास के लिए काफी अच्छा है। इसलिए मैं यह करना चाहती थी।”

पेशे से इंजीनियर अंकिता 2013 से टीसीएस विश्व 10 किलोमीटर मैराथन में दौड़ रही हैं। उन्होंने पांच अंतर्राष्ट्रीय मैराथनों में हिस्सा लिया है, जिसमें तीन बार बर्लिन के अलावा बोस्टन और न्यू यार्क शामिल है।

ये भी पढ़ें – एक फुटबॉल क्लब के लिए सबसे ज्यादा गोल दागने वाले खिलाड़ी बने लियोनेल मेस्सी, पेले को छोड़ा पीछे

जब उनसे मैराथन में हिस्सा लेने के फैसले के बारे में स्त्रीरोग विशेषज्ञ की प्रतिक्रिया के बारे में पूछा तो उन्होंने कहा, “मेरे डॉक्टर ने कहा कि यह पूरी तरह से स्वास्थ है। बल्कि उन्होंने मुझे हिस्सा लेने के लिए प्रेरित किया। उन्होंने मुझे सलाह दी कि मैं ज्यादा तेज न दौड़ूं। मेरे फिजियोथैरेपिस्ट ने भी मुझे हरी झंडी दे दी थी, वह मेरे साथ तीन साल से हैं।”

ये भी पढ़ें – IND vs AUS : सिडनी ने अंतिम दो टेस्ट की मेजबानी की पेशकश की

परिवार वालों की प्रतिक्रिया के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा, “शुरुआत में मेरी मां इसे लेकर आश्वस्त नहीं थीं, लेकिन उन्होंने मुझे स्पोर्ट्स में आगे बढ़ने के लिए हमेशा से प्रेरित किया है। जब मैंने उनसे कहा कि डॉक्टर ने इसके लिए हां बोल दी है तो उन्हें भी कोई परेशानी नहीं हुई।”

उन्होंने कहा, “मेरे पिता मेरा काफी साथ देते हैं। वह मुझ पर गर्व करते हैं कि मैं रनिंग कर रही हूं। वह खुद खिलाड़ी रहे हैं, इसलिए वो मुझे प्रेरित करते हैं। मेरे पति ने हमेशा मेरा साथ दिया है और हमेशा से मेरे साथ रहे हैं। जब हम डॉक्टर से यह पूछने गए थे तो वह मेरे साथ थे। मैं कह सकती हूं कि मैं काफी भाग्यशाली हूं।”



[ad_2]

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.