October 19, 2021

News Chakra India

Never Compromise

AUS vs IND : T20I क्रिकेट में लगातार सबसे अधिक मैच जीतने के मामले में भारत ने पाकिस्तान को पछाड़ा, दर्ज की 10वीं जीत

1 min read

[ad_1]

AUS vs IND India register 10th consecutive win in T20 cricket, beating Pakistan- India TV Hindi
Image Source : PTI
AUS vs IND India register 10th consecutive win in T20 cricket, beating Pakistan

भारत ने ऑस्ट्रेलिया को दूसरे टी20 में 6 विकेट से हराकर तीन मैच की टी20 सीरीज को 2-0 से अपने नाम कर लिया है, इसी के साथ भारत ने पाकिस्तान को पछाड़ते हुए टी20 क्रिकेट में अपनी लगातार 10वीं जीत दर्ज की है। पाकिस्तान के नाम लगातार 9 जीत का रिकॉर्ड है। वहीं सबसे ज्यादा लगातार मैच जीतने का रिकॉर्ड अफगानिस्तान के नाम है जिन्होंने 2018-19 में लगातार 12 मैच जीते थे।

ये भी पढ़ें – विंडीज के खिलाफ पहले टेस्ट मैच के दौरान न्यूजीलैंड के डेरिल मिशेल पर लगा जुर्माना

टी20 में सबसे ज्यादा लगातार मैच जीतने का रिकॉर्ड

12 अफगानिस्तान (2018-19)

11 अफगानिस्तान (2016-17)
10 भारत (2020) *
9 पाकिस्तान (2018)

ये भी पढ़ें – AUS vs IND 2nd T20I : हार से निराश होकर बोले ऑस्ट्रेलियाई कप्तान मैथ्यू वेड, यहां हुई उनकी टीम से चूक

उल्लेखनीय है, इस मैच में पहले बल्लेबाजी करते हुए ऑस्ट्रेलिया ने मैथ्यू वेड के 58 और स्टीव स्मिथ के 46 रन के दम पर भारत के सामने 195 रन का लक्ष्य रखा था। भारत के लिए टी नटराजन ने शानदार गेंदबाजी करते हुए 4 ओवर में मात्र 20 रन देकर दो विकेट झटके थे। इसके अलावा चहल और ठाकुर को भी एक एक विकेट मिला था।

195 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए केएल राहुल (30) और धवन (52) ने भारत को अच्छी शुरुआत देते हुए पहले विकेट के लिए 56 रन जोड़े थे। इसके बाद कोहली ने 40 रन की महत्वपूर्ण पारी खेली थी। धवन और कोहली के आउट होने के बाद ऑस्ट्रेलिया ने मैच में वापसी की थी, लेकिन तब हार्दिक पांड्या ने 22 गेंदों पर तीन चौकों और दो छक्कों की मदद से 42 रन की नाबाद पारी खेलकर भारत को दो गेंद शेष रहते जीत दिलाई थी।

ये भी पढ़ें – मिस्बाह का मानना, न्यूजीलैंड दौरे पर आइसोलेशन में अभ्यास नहीं करने से पड़ा पाक टीम पर असर

हार्दिक पांड्या ने मैच के बाद कहा “यह बहुत सरल था, मुझे स्कोर बोर्ड देखकर उसके अनुसार खेलना पसंद है ताकी मैं गेंदबाज को टार्गेट कर सकूं। मैंने इस परिस्थितियों में कई बार बल्लेबाजी की और अपनी गलतियों से काफी कुछ सीखा है।” 

उन्होंने आगे कहा “मेरा खेल हमेशा उस आत्मविश्वास के इर्द-गिर्द होता है जिसे मैं अपने साथ लेकर चलता हूं। वहां एक रेखा होती है और मैं खुद को ओवर कॉन्फिडेंट होने से रोकता हूं। मैं हमेशा उस समय को याद करता हूं जब हमने बड़े लक्ष्य का पीछा किया था यह मेरी काफी मदद करता है। उन्होंने भी अच्छी बल्लेबाजी की और हम सकारात्मक रहना चाहते थे।”



[ad_2]

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.