March 4, 2021

News Chakra India

Never Compromise

BCCI AGM आज: टी-20 वर्ल्ड कप और IPL में नई टीम पर चर्चा होगी, गांगुली के हितों के टकराव का मुद्दा उठ सकता है

1 min read

[ad_1]

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

मुंबई7 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

T-20 वर्ल्ड कप ट्रॉफी के साथ BCCI अध्यक्ष सौरव गांगुली और सचिव जय शाह। यह टूर्नामेंट 2021 में भारत की मेजबानी में ही होगा।

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) की गुरुवार को अहमदाबाद के मोटेरा स्टेडियम में 89वीं एनुअल जनरल मीटिंग (AGM) होगी। इसमें IPL में 2 नई फ्रैंचाइजी को शामिल और 2021 में भारत की मेजबानी में होने वाले टी-20 वर्ल्ड कप पर चर्चा होगी।

इसके साथ ही मीटिंग में टैक्स से संबंधित मामले, क्रिकेट कमेटी, ICC में भारत के नए प्रतिनिधि और 3 नए सिलेक्टर्स के चयन पर भी फैसला हो सकता है। BCCI अध्यक्ष सौरव गांगुली के हितों के टकराव का मुद्दा उठ सकता है। सचिव जय शाह ICC में बोर्ड को रिप्रजेंट कर सकते हैं।

BCCI ने एफिलिएटेड यूनिट्स को 23 पॉइंट एजेंडा भेजा
BCCI ने बैठक से 21 दिन पहले सभी एफिलिएटेड यूनिट्स को 23 पॉइंट एजेंडा भी भेजा था। बैठक में बोर्ड के नए उपाध्यक्ष पर भी फैसला लिया जाएगा। BCCI उपाध्यक्ष के तौर पर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता राजीव शुक्ला के नाम की औपचारिक तौर पर घोषणा होगी। महिम वर्मा के इस्तीफे के बाद से यह पद खाली है।

अदाणी ग्रुप और गोयनका ग्रुप की अहमदाबाद फ्रैंचाइजी में दिलचस्पी

ऐसा माना जा रहा है कि मीटिंग में 2 नई टीमों को शामिल कर लिया जाएगा। हालांकि, दोनों टीमें 2022 से ही IPL में खेलने का मौका मिलेगा। IPL के पिछले संस्करण की तरह 2021 में भी सिर्फ 8 टीमों के बीच ही मुकाबले कराए जाएंगे। इतना ही नहीं मेगा ऑक्शन की जगह इस बार भी मिनी ऑक्शन ही होगा।

नई टीमों में अहमदाबाद फ्रेंचाइजी को लेकर बातचीत चल रही है। अदाणी ग्रुप और गोयनका ग्रुप दोनों ने ही इस फ्रेंचाइजी खरीदने में दिलचस्पी दिखाई है। सूत्रों के मुताबिक बैठक में इस एजेंडे को मुख्य तौर पर शामिल किया गया है।

मदन लाल की नेतृत्व वाली एडवाइजरी कमेटी का कार्यकाल बढ़ सकता है

क्रिकेट एडवाइजरी कमेटी (CAC) के कार्यकाल को बढ़ाए जाने की संभावना है। यह कमेटी फरवरी में इंग्लैंड के खिलाफ होने वाली सीरीज से पहले 3 नए सिलेक्टर्स को चुनेगी। बीसीसीआई सूत्रों के अनुसार 1983 वर्ल्ड कप विजेता मदन लाल की अध्यक्षता वाली CAC अपना काम पहले की तरह ही करेगी। कमेटी के दो अन्य सदस्य आरपी सिंह और सुलक्षणा नायक हैं। इसी कमेटी ने सुनील जोशी और हरविंदर सिंह को चुना था।

टी-20 वर्ल्ड कप की तैयारियों को लेकर चर्चा

बैठक में भारत की मेजबानी में होने वाले 2021 टी-20 वर्ल्ड कप को लेकर की जा रही तैयारियों पर भी बातचीत हो सकती है। साथ ही क्रिकेट को 2028 में लॉस एंजिलस में होने वाले ओलिंपिक में शामिल किए जाने को लेकर भी चर्चा हो सकती है।

मुश्ताक अली ट्रॉफी के बाद होगा मिनी ऑक्शन

31 जनवरी को भारत की घरेलू टी-20 टूर्नामेंट मुश्ताक अली ट्रॉफी खत्म होगी। इसके बाद फरवरी में मिनी ऑक्शन होगा। लीग की शुरुआत अप्रैल के दूसरे हफ्ते से होगी, क्योंकि इंग्लैंड के साथ घरेलू सीरीज मार्च के अंतिम हफ्ते तक चलेगी।

बोर्ड के एक अधिकारी ने एजेंसी से कहा, ‘नई टीम को शामिल करने के लिए कम समय बचा है। टेंडर, खिलाड़ियों का ऑक्शन और सभी स्टेकहोल्डर्स को एक जगह पर लाने के लिए समय की कमी है। इस कारण नई टीम को सिर्फ 2022 में ही शामिल किया जा सकता है।’

स्टार के साथ ब्रॉडकास्ट डील 2021 तक की है

BCCI के अन्य अधिकारी ने बताया कि उनके हिसाब से इस साल टीमों की संख्या में बढ़ोतरी नहीं होगी। उन्होंने कहा, ‘स्टार के साथ IPL के ब्रॉडकास्ट की डील 2021 तक की है। इस वजह से डील खत्म होने के बाद नई टीम पर फैसला होगा। ऐसे में ब्रॉडकास्ट डील के अलावा अन्य कॉमर्शियल चीजों की वैल्यू में बढ़ोतरी करनी होगी। हालांकि बैठक में ही अंतिम निर्णय लिया जाएगा।’

लीग में यदि 10 टीमें उतरती हैं, तो कुल 94 मैच कराने होंगे। ऐसे में आयोजन के लिए बड़े विंडो की जरूरत होगी, जो मौजूदा सीजन में मुश्किल है। पिछले साल कोरोना के कारण पहले ही कई टूर्नामेंट और सीरीज स्थगित हो चुकी हैं। इन सभी का आयोजन इस साल होना है। जबकि, इस साल भारत में टी-20 वर्ल्ड कप का भी आयोजन होगा।

जय शाह ग्लोबल कमेटी में भारत को रिप्रजेंट कर सकते हैं

बैठक में ICC और एशियन क्रिकेट काउंसिल के नए रिप्रेजेंटेटिव को तलाशने का भी काम किया जाएगा। BCCI के मौजूदा सचिव जय शाह सौरव गांगुली के साथ पहली की तरह ग्लोबल कमेटी में भारत का रिप्रेजेंटेटिव कर सकते हैं।

BCCI ने टेक्निकल कमेटी भी बनाने की बात कही

BCCI सूत्र के हवाले से एजेंसी ने कहा, ‘सिलेक्शन कमेटी क्रिकेट कमेटी का पार्ट है। इसके साथ ही एक टेक्निकल कमेटी को भी बनाने की जरूरत है। ये सब स्टैचुअरी सब-कमेटी होंगी। इसके साथ ही अंपायर्स सब-कमेटी भी बनाई जा सकती है। बैठक में नेशनल क्रिकेट एकेडमी से जुड़े मुद्दों के बारे में भी बातचीत की जाएगी।’

[ad_2]

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.