February 24, 2021

News Chakra India

Never Compromise

IND VS AUS दूसरा टेस्ट: मोहम्मद सिराज ने डेब्यू मैच में 5 विकेट लिए;  सात साल बाद ऐसा करने वाले भारतीय गेंदबाज हैं

1 min read

[ad_1]

  • Hindi News
  • Sports
  • IND VS AUS Second Test Match Mohammad Siraj Took 5 Wickets In The Debut Match; Indian Bowlers Who Do So After Seven Years Are

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

मेलबर्न15 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

मोहम्मद सिराज ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ डेब्यू मैच में कुल 5 विकेट लिए। उन्होंने पहली पारी में 2 और दूसरी पारी में 3 विकेट लिए।

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ मेलबर्न में चल रहे दूसरे टेस्ट मैच में टीम इंडिया के ओर से मोहम्मद सिराज ने डेब्यू मैच खेला। सिराज ने पहले टेस्ट में 5 में पांच विकेट लिए। वे सात साल बाद डेब्यू मैच में 5 विकेट लेने वाले भारतीय गेंदबाज हैं। उनसे पहले मोहम्मद शमी ने 2013 में कोलकाता में वेस्टइंडीज के खिलाफ डेब्यू मैच में 5 से ज्यादा विकेट लिए थे। उन्होंने दोनों पारियों में कुल नौ विकेट लिए थे।
सिराज ने पहली पारी में 15 ओवर में 40 रन देकर 2 विकेट और दूसरी पारी में 21.2 ओवर में 37 रन देकर 3 विकेट लिए। उन्होंने कैमरून ग्रीन को दोनों पारियों में आउट किया। जबकि दूसरी पारी में ट्रेविस हेड और नाथन लायन का विकेट लिया। जबकि पहली पारी में ग्रीन के साथ मार्नस लाबुशेन का आउट किया था।
मोहम्मद शमी के सीरीज से बाहर होने पर सिराज को मिला मौका
सिराज को मोहम्मद शमी के चोटिल होने के बाद चार टेस्ट मैचों के सीरीज की दूसरे टेस्ट में शामिल किया गया है। शमी को एडिलेड में पहले टेस्ट में बैटिंग के दौरान चोट लग गई थी। जिसके बाद डॉक्टरों ने 6 हफ्ते आराम की सलाह दी। जिसके बाद वह टेस्ट सीरीज के बाकी मैचों से बाहर हो गए।
आर अश्विन ने 2011 में डेब्यू मैच में लिए थे 5 से ज्यादा विकेट
आर अश्विन भी 2011 में वेस्टइंडीज के खिलाफ दिल्ली में खेले गए टेस्ट मैच में डेब्यू करते हुए 5 से ज्यादा विकेट लिए थे। उन्होंने 9 विकेट लिया था। वहीं मेलबर्न टेस्ट में भी अश्विन ने 5 विकेट लिए हैं। पहली पारी में उन्होंने 24 ओवर में 35 रन देकर 3 विकेट और दूसरी पारी में 37.1 ओवर में 71 रन देकर 2 विकेट लिए थे।
सिराज ने कहा- सीनियर गेंदबाज बुमराह का मिला सपोर्ट
मैच के बाद सिराज ने कहा- सीनियर गेंदबाज जसप्रीत बुमराह हर गेंद के बाद आकर मेरा हौसला बढ़ा रहे थे। उन्होंने मुझे केवल यही कहते थे, कि आप पूरा फोकस गेंदबाजी करने पर करें। आप धैर्य रखें और आप बेहतर गेंदबाजी कर रहे हैं।

[ad_2]

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.